तू जो मेरे इतने करीब है। ना जाने तू किसका नसीब है। तू जो मेरे दिल की राहत है। ना जाने तू किसकी चाहत है। तू जिसके पास मेरे दिल की जागीर है। ना जाने तू किसकी तकदीर है।
तू जो साथ मेरे अब तक है। ना जाने तुझ पर किसका हक है। तू जिसकी मेरे दिल को हसरत है। ना जाने तू किस  की किस्मत है। तू जो मेरे साथ साथ चलता है। ना जाने तेरा कौन सा रास्ता है।
तू जिसको दिल खोने से डरता है। ना जाने तू किस पर मरता है। तू जिसकी मुझको जरूरत है। ना जाने तू किस की मोहब्बत है। तू जो मेरी साँसों में बहता है। ना जाने तेरे दिल में कौन रहता है।
तू जो मुझको इतना याद आता है। ना जाने तू किसको चाहता है। तू जो मेरा साथ निभाता है। ना जाने तेरा किस से नाता है। तू जिसको ना पा सका तो बर्बादी है। ना जाने किसके नसीब में तुझसे शादी है। तू जिसने मुझको लिखना सिखाया है। ना जाने तू किसका हमसाया है।

ー Priyank Sharma.